सरकार क्यों चाहती है कि आप वॉल्व वाला N95 मास्क ना पहनें? WHO ने N95 मास्क को लेकर क्या चेतावनी जारी की है?

सरकार ने अभी हाल में एक चेतावनी जारी की है जिसमें कहा गया है कि N95 मास्क जिनमें वॉल्व होता है वो कोरोनावायरस के समय ख़तरनाक साबित हो सकता है।आइए जानते हैं कि  वॉल्व वाला N95 मास्क क्यों ख़तरनाक है


N95 मास्क क्या होता है?

N95 मास्क ऐसा मास्क होता है जो कम से कम 95% वायु जनित कणों को छान देता है। अर्थात् कि यदि १०० कण हैं वायु में तो  95 कणों को छान देगा। 
N95 मास्क को सिंथेटिक पॉलीमर फ़ाइबर के एक महीन जाल की आवश्यकता होती है, विशेष रूप से एक गैर बुना हुआ पॉलीप्रोपाइलीन कपड़ा, जो खतरनाक कणों को छानता है।


N95 मास्क के प्रकार: 

ये मुख्यतः दो प्रकार का होता है

  1. बिना वॉल्व वाला
    N95 mask without valve

  2. वॉल्व वाला
    N95 mask with valve








N95 मास्क के इस्तेमाल

  1. कैमिकल इंडस्ट्री में काम करने कर्मचारी
  2. कोरोना वॉर्ड में काम करने वाले स्वास्थ्य कर्मचारी
  3. प्रदूषण से बचाव के लिए 

कोरोना काल में वॉल्व वाले मास्क क्यों नहीं पहनने चाहिए? 

वॉल्व वाले मास्क क्यों नहीं पहनने चाहिए ये समझने के लिए हमें वॉल्व के कार्य करने की प्रक्रिया समझना ज़रूरी है। 


वॉल्व के कार्य करने की प्रक्रिया: 

वॉल्व वाले मास्क में जो साँस अंदर लेते हैं, तो अंदर आने वाली हवा छन कर शुद्ध होकर आती है जिसमें कोई विषाणु नहीं होता है, परंतु जो हवा हम छोड़ते हैं वो बिना शुद्ध हुए बाहर निकल जाती है, तो जो भी विषाणु हमारे शरीर से बाहर आ रहा है वो सीधे वातावरण में मिल जाता है। 

सरकार वॉल्व वाले मास्क के लिए क्यों मना कर रही है?

मान लीजिए कि व्यक्ति ‘क’ को कोरोनावायरस का संक्रमण है और वो वॉल्व वाला N95 मास्क पहना हुआ है, तो: 

  1. व्यक्ति ‘क’ जो साँस अंदर ले रहा है वो शुद्ध होकर अंदर आएगी तो क को शुद्ध साँस मिलेगी। 
  2. जब व्यक्तित्व ‘क’ साँस बाहर छोड़ेगा तो उसकी छोड़ी हुई साँस बिना शुद्ध हुए सारे विषाणु ( कोरोनावायरस) लेकर मास्क से बाहर निकल जाएगी और वातावरण में वायरस भी मिल जाएगा, जो अन्य लोगों को संक्रमित कर सकता है। 
अब जब संक्रमण बहुत तेज़ी से  फैल रहा है तो ये ज़रूरी है कि संक्रमण फैलने के सभी माध्यमों को नियंत्रित किया जाए, एवं ये अब शोध से भी साबित हो चुका है कि वॉल्व वाले N95 मास्क संक्रमण को फैलने से नहीं रोक सकते इसलिए वॉल्व वाले मास्क पहनने के लिए सरकार मना कर रही है। सरकार का मानना है कि ये मास्क संक्रमण को और तीव्रता से फैला सकते हैं। 
आप भी बिना वॉल्व वाला N95 मास्क ही पहने जिससे आपके साथ साथ दूसरों की भी सुरक्षा हो। 

ये भी पढ़ें: 



Comments

Popular posts from this blog

पिट्युटरी या पीयूष ग्रंथि: संरचना एवं हॉर्मोन

एनस्थिसिया क्या होता है? एनस्थिसिया कितने प्रकार का होता है? एनस्थिसिया कैसे देते हैं? एपीड्यूरल एनस्थिसिया क्या होता है? Anaesthesia in hindi

म्यूकरमाइकोसिस क्या है? ब्लैक फ़ंगस क्या होता है?। कोरोना के मरीज़ों में ब्लैक फ़ंगस क्यों हो रहा है?। Black fungus in hindi

वजन कम करने के लिए डाइट प्लान कैसे बनाएँ? केवल डाइट से वजन कैसे कम करें।वजन कम करने के लिए क्या खाएँ और क्या ना खाएँ